Army

डोकलाम पर चीन की चिक-चिक जारी, इसलिए भारतीय सेना अब उठाने जा रही ये कदम

 डोकलाम पर चीन की चिक-चिक जारी, सेना की गश्त बढ़ाने की तैयारी
भारत चीन के बीच चल रहे डोकलाम विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। चीन के रक्षा मंत्री रेन ने कहा है कि डोकलाम पर चीन गश्त बढ़ाएगा।

डोकलाम पर चीन की चिक-चिक जारी, इसलिए भारतीय सेना अब उठाने जा रही ये कदम September 1, 2017Leave a comment
 डोकलाम पर चीन की चिक-चिक जारी, सेना की गश्त बढ़ाने की तैयारी
भारत चीन के बीच चल रहे डोकलाम विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। चीन के रक्षा मंत्री रेन ने कहा है कि डोकलाम पर चीन गश्त बढ़ाएगा।

बीजिंग (एजेंसी)। चीन के रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि डोकलाम सीमा पर चीन पेट्रोलिंग को बढ़ाएगा। इसके लिए वह सीमा पर सेना की तैनाती को बढ़ावा देगा। डोकलाम पर दो महीने के गतिरोध के बाद भारत और चीन ने इस मामले को सुलझा लिया था।

 

चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रेन गुओकिंग ने कहा, “राष्ट्रीय संप्रभुता की रक्षा के लिए सीमा पर चीन सैनिकों की गश्त को बढ़ाएगा।” इसके साथ ही स्थिति में हुए बदलाव को देखते हुए चीनी सीमा सुरक्षा बल की तैनाती की जाएगी।

 

इसके अलावा चीन के विदेश मंत्रालय ने ‘आतंकवादियों के लिए स्वर्ग’ बन चुके पाकिस्तान की सराहना करते हुए कहा है कि ब्रिक्स सम्मेलन में आतंकवाद पर चर्चा नहीं होगी। चीन ने गुरुवार को कहा है कि वो पाकिस्तान से उत्पन्न आतंकवाद को लेकर भारत की चिंता पर ब्रिक्स में चर्चा नहीं करेगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि आतंकवाद से लड़ने के लिए पाकिस्तान ने आगे बढ़कर कोशिश की है और इसके लिए बलिदान भी दिए हैं।

 

हुआ ने प्रेस ब्रीफिंग में कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पाकिस्तान के योगदान और उसके बलिदानों को मान्यता देनी चाहिए। पाकिस्तान की आतंकरोधी गतिविधियों को लेकर कुछ चिंताएं हैं, लेकिन ब्रिक्स सम्मेलन में चर्चा के लिए यह उचित मुद्दा नहीं है।’

 

इससे पहले डोकलाम विवाद को लेकर भारत ने सड़क निर्माण कार्य रोकने के लिए अपने सैनिक भेजे थे। भारत ने कहा था कि चीन के इस कदम से गंभीर खतरा पैदा होगा। हालांकि दोनों देशों ने अब तक अपने सैनिकों को हटाने की शर्तों का खुलासा नहीं किया। इसी बीच बुधवार को चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कहा था कि भारत को इस मामले से सबक लेना चाहिए।

 

गौरतलब है कि, डोकलाम विवाद को चीन में होने जा रहे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के एक सप्ताह पहले ही सुलझा लिया गया है। ब्रिक्स सम्मेलन में ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका हिस्सा लेने वाले हैं। चीन के शियामेन में आयोजित होने वाली ब्रिक्स सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित होंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *