Facts News Social Media

नवाज़ शरीफ के इस्तीफ़े से पाकिस्तान में अस्थिरता, भारत भी है चिंता में जिसकी हैं ये बड़ी वजहें

पानामागेट कांड में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का नाम आने के बाद से ही पाकिस्तान में हड़कंप मच गया था

नवाज़ शरीफ के इस्तीफ़े से पाकिस्तान में अस्थिरता, भारत भी है चिंता में जिसकी हैं ये बड़ी वजहें July 30, 2017

पाकिस्तान की विपक्षी पार्टियां नवाज़ शरीफ़ पर दबाव बना रहीं थी कि वो इस्तीफ़ा दें. नवाज़ शरीफ ने भी खुद को बचाने के लिए हर संभव कोशिश की. उन्होंने अपने बचाव में एक बार बयान दिया था कि, अमेरिका ने उनको न्यूक्लियर टेस्ट न करने के एवज में कई करोड़ों का ऑफ़र रखा था लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया था. नवाज़ ने खुद को बचाने की बहुत कोशिश की लेकिन वो कोर्ट के फैसले को अपने पक्ष में नहीं कर पाए.

source

नवाज़ शरीफ हुए अयोग्य घोषित 

पनामागेट केस में में पाकिस्तान के सर्वोच्च न्यायालय ने पीएम नवाज़ शरीफ को अयोग्य घोषित कर दिया है, ये पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट का एक ऐतिहासिक फैसला है जिसके बाद पाकिस्तान में चीजें बदल गई हैं. पाकिस्तान के बदले सियासी माहौल पर भारत की नजरें बनी हुई हैं. नवाज़ के इस्तीफ़े के बाद वहां राजनीतिक अस्थिरता बढ़ने की पूरी संभावना है, हो सकता है कि वहां की सेना अब हस्तक्षेप करे जिससे भारत को भी सचेत होने की आवश्यकता है.

source

भारत ये आशंका जता रहा है कि पाकिस्तान में फैली अस्थिरता से कश्मीर में आतंक फैलाने वाले संगठनों को नई उर्जा मिलेगी और इस वजह से कश्मीर में आतंकी गतिविधियाँ हो सकती हैं. इन हालातों को देखते हुए भारत की ख़ुफ़िया एजेंसी ने सतर्कता बढ़ा दी है. भारत ने सभी जांच एजेंसियों को सतर्क रहने को कहा है और खासकर जम्मू-कश्मीर में.

source

भारत की चिंता का पहला कारण 

भारतीय विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी का कहना है कि, नवाज़ शरीफ की बर्खास्तगी के बाद बने हालात को देखते हुए तीन वजहों से भारत चिंता में है. सबसे बड़ी वजह तो ये है कि मजबूत राजनीतिक नेतृत्व न होने की वजह से पाकिस्तान की सेना बेलगाम होगी और ऐसे हालात में वो कुछ भी कर सकती है. पाकिस्तान की सेना का मूलमंत्र ही ये है कि भारत के साथ किसी भी हालत में रिश्ते बेहतर न हों.

source

भारत की चिंता का दूसरा कारण 

चिंता का दूसरा बड़ा कारण ये है कि अगले साल पाकिस्तान में चुनाव हैं और ऐसे में वहां के राजनीतिक दलों के द्वारा भारत के विरोध में बातें की जा सकती हैं. अगर ऐसी बातें होती हैं तो भारत विरोधी आतंकी संगठनों जैसे, जैश-ए-मोहम्मद और तहरीक-ए-आज़ादी को पाकिस्तान में अपनी गतिविधियों को और तेज़ करने का मौका मिल जाएगा.

source

भारत की चिंता का तीसरा और सबसे बड़ा कारण 

तीसरी और सबसे चिंता वाली वजह है पाकिस्तान की सेना. अब जबकि पाकिस्तान में कोई राजनीतिक नेतृत्व नहीं है तो ऐसे में पाकिस्तान की सेना कोई भी गलत काम कर सकती है. पाकिस्तान की सेना आतंकी गतिविधियों को बढ़ाने में सहयोग दे सकती है. वो कश्मीर की स्थिरता को और खराब करना चाहेगी.

source

नवाज शरीफ पहली बार वर्ष 1990  से 1993 के बीच पाक के प्रधानमंत्री बने थे. इसके बाद नवाज शरीफ ने 1997 में दूसरी बार प्रधानमंत्री का कार्यकाल शुरू किया लेकिन 1997 में तत्कालीन सेना प्रमुख मुशर्रफ ने तख्तापलट कर दिया और नवाज की सरकार गिर गई थी. सुप्रीम कोर्ट ने इसी साल पनामागेट मामले को लेकर संयुक्त जांच दल का गठन किया था. संयुक्त जांच दल ने 10 जुलाई को अपनी रिपोर्ट कोर्ट को सौंपी थी जिसमें नवाज़ को अयोग्य घोषित कर दिया गया.