India News

पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश

पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश January 5, 2018Leave a comment

पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश :- आप ने दुनिया में चोरी की बहूत सी घटनाए सुनी होंगी. लेकिन आज हम आप को जो बता रहे है ऐसा आपने शायद ही कभी सुना होगा. लेकिन जीवन में कभी कभी ऐसे हादसे हो जाते है जिन्हें जानने के बाद क्या प्रतिक्रिया दी जाए ये समझ में नहीं आता है. अक्सर हम सबने सुना है कि किसी भी गलत काम कि शुरुवात मजबूरी में होती है. आज के समय में दुनिया को दकेह कर कई बार इस बात पर भरोसा नहीं होता है.

आज हम आप को बता रहे कि कैसे एक चोर ने जो किया है उसे देखा कर हर कोई दंग रह गया गर ये वक्या सीसीह्होदी जिसे देख कर टीवी में कैद न हुआ होता शायद ही कोई इस पर भरोसा नही करता. आप ने क्या कभी सुना है कि कोई चोर अपना चोरी का सामान उसी जगह पर छोड़ दिया हो और उसके साथ एक चिठी भी छोड़ी. जिसे जिसने भी पढ़ा उसका दिल ही भर आया.

पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश
पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश

ये किसी फिम या कहनी की बात नही है बल्कि ये एक सच्ची घटना है जो हरियाणा में घटी. हम आप को बता रहे है कि आखिर कैसे और कब क्या हुआ. 29 दिसंबर को फतेहाबाद शहर में शमशान घाट के बाहर से अज्ञात व्यक्ति एक बाइक उठाकर ले गया था. शमशान घाट के बाहर लगे सीसीटीवी में बाइक चोरी की ये सारी वारदात कैद हो गई. इसके बाद किसी ने ये सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर फैलाया गया जिसके बाद इसे फेसबुक और व्हाट्सअप पर हजारों लोगों ने इसे देखा.

पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश
पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश

जिसके तीन दिन बाद उसी जगह पर वो गाड़ी मिली. उस पर एक लेटर लगा हुआ था जिस पर जो लिखा हुआ था वो भी आप पढ़ लीजिए.

पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश
पत्र लिखकर बाइक वापस छोड़ गया चोर, Zoom करके देखेगे तो उड़ जायेगे आपके होश

आदरणीय भाई साहब, मैने आपका बाइक चोरी किया था. अब मैं आपका बाइक वापस कर रहा हूं. मुझे बाइक की एक दिन की जरूरत थी. मैं फतेहाबाद का ही रहने वाला हूं और ये गंदा काम पहली बार ही किया.

मेरी कोई मजबूरी थी, प्लीज मुझ पर कोई कार्रवाई ना करो. मैं एक मजबूर बाप हूं. मैं जल्द ही बाइक की टंकी और इसके कागजात जल्द ही खुद आकर आपके घर दे जाऊंगा. साथ ही तभी अपनी मजबूरी भी बताऊंगा.

 

इस सीसीटीवी में साफ दिख रहा है कि शमशान घाट के बाहर एक बाइक पर दो युवक आते हैं और कुछ देर तक बाइक के आसपास खड़े होकर आपस में बात करते हैं. इसके बाद अचानक से एक युवक बाइक लेकर चलते बनता है और दूसरा युवक अपनी बाइक लेकर उसके पीछे निकल जाता है.


loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *