Entertainment Facts

कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना..

कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना

कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना.. December 15, 2017Leave a comment

कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना :- बॉलीवुड में एक समय गोविंदा के नाम से फिल्मे हिट हो जाया करती थी अगर गोविंदा जिस भी फिल्म को साइन कर लेते थे उसका हिट होना तय मन जाता था, फिर धीरे धीरे गोविंदा का सितारा बुलन्दियो से निचे उतरने लगा और एक समय ऐसा आया जब वो कुछ समय के लिए बड़े परदे से गायब हो गए थे. गोविंदा एक बार फिर से फिल्मो में सक्रीय होने लगे है हाल में आई  फिल्मो  में आपने गोविंदा को  देखा होगा,

गोविंदा ने अपने फ़िल्मी जीवन में एक से बढ़कर एक किरदार किया हैं गोविंदा को अपने डांस और कॉमिक टाइमिंग के लिए जाना जाता है.. आज हम आपको गोविंदा के जीवन की एक ऐसी दुखभरी घटना बताने जा रहे हैं जिससे गोविंदा आज भी उबर नहीं पाए है..

कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना
कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना

गोविंदा ने अपने फ़िल्मी जीवन का सफ़र 80 के दशक  में शुरू किया था. गोविंदा इस फ़िल्मी दुनिया में 30 साल से ज्यादा का सफ़र गुजार चुके है. गोविंदा के आज भी करोडो दीवाने हैं. गोविंदा ने फिल्म जगत के अलावा राजनीती में भी हाथ अजमाया है. वो कांग्रेस से टिकट लेकर चुनाव भी लड़ चुके हैं.

गोविंदा का विवाह सुनीता से हुआ है, वो आनंद सिंह की बहन है सुनीता और आनंद का विवाह 11 मई 1987 को हुआ था, शादी के बाद दोनों का जीवन खुशाली से बीत रहा था लेकिन गोविंदा के जीवन में एक दुखद घटना घटी जिसे याद के गोविंदा दुखी हो जाते है, दरअसल शादी के बाद गोविंदा को एक बेटी हुई थी. जिसकी मृत्यु 4 महीने बाद हो गयी थी, गोविंदा ने एक इंटरव्यू में बताया था की उनके सामने उनके परिवार के 11 लोगों की मौत हुई है, और इसमें सबसे पहली मौत उनकी बेटी की हुई है.

कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना
कितना मुश्किल रहा होगा Govinda के लिए अपनी बेटी की मौत को सह पाना

फ़िलहाल गोविंदा की एक बेटी और एक बेटा है गोविंदा की बेटी का नाम टीनाआहूजा है जो की बॉलीवुड में अपना कर्रिएर बनाना चाहती है, गोविंदा का बेटा अभी पढाई कर रही गोविंदा ने बताया की उनके बेटे पर कोई दबाव नहीं है उसका जिस भी फील्ड में मन चाहे वो कर्रिअर बना सकता है ..


loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *